applicationAppsTutorial

Signal App क्या है? Signal App Feature in hindi। signal app Use कैसे करें पूरी जानकारी।

Signal App क्या है: दोस्तो जबसे Whatsapp New Policy लाया है अब लोग  WhatsApp Alternative Search कर रहे है अगर आप भी signal app download करना चाहते है और use करना चाहते है तो बने रहिए हमारे साथ हम आपको signal app feature के बारे में बताएंगे।

जबसे व्हाट्सएप ने अपने पॉलिसी में कहा है कि वो लोगो को डेटा अपने उद्देश्य के लिए इस्तमाल करेगा तबसे काफी लोग signal app की तरफ अट्रैक्ट हो रहे है व्हाट्सएप का कहना है कि आपके डाटा को अपने बिजनेस के लिए इस्तमाल कर सकता है इसको सुनने के बाद काफी लोग व्हाट्सएप अल्टरनेटिव search कर रहे है ।

 

Signal App बिल्कुल व्हाट्सएप और टेलीग्राम के तरह ही काम करता है ये एक मल्टीमीडिया मैसेंजर एप्लिकेशन है इसमें इसको इस्तमाल करने के बाद आपको बिलकुल व्हाट्सएप वाली फीलिंग आएगा।

अगर आप भी सिग्नल आप को इस्तमाल करने के बारे में सोच रहे है ओर आपको इसके बारे में पूरी जानकारी चाहिए तो चलिए आपको बताते है Signal App Kya Hai और Signal App Feature In Hindi।

सिग्नल एप्प क्या है – Signal App Kya Hai

Signal App kya hai, Signal App Feature In Hindi

 

Signal App एक Multimedia Messaging App है जो बिल्कुल व्हाट्सएप और टेलीग्राम की तरह काम करता है सिग्नल ऐप को Signal Foundation और Signal Messenger के द्वारा डेवलप किया गया है सिग्नल फाउंडेशन विकिपीडिया के तरह नॉन प्रॉफिट फाउंडेशन है सिग्नल ऐप को अमेरिकन क्रिप्टोग्राफर मॉक्सी मार्लिनस्पाइक (Moxie Marlinspike) डेवलप किया है

Signal App को व्हाट्सएप की तरह सभी देवाइस में काम करने के लिए बनाया गया है यह Android , Windows और ISO जैसे सभी Device में आसानी से चल जाएगा । सिग्नल ऐप व्हाट्सएप के मुकाबले इसलिए ज्यादा सिक्योर है क्योंकि व्हाट्सएप में सिर्फ मैसेज और कॉल ही End to end encryption होती है लेकिन सिग्नल अप में पूरी मेटा डाटा ही end to end पर काम करती है

 

Signal App History in Hindi

Signal App को Moxie Marlinspike ने डेवलप किया है जो कि एक अमेरिकन क्रिप्टोग्राफर है और Signal Foundation के CEO भी है

इससे पहले ही Brian Acton ने 2013-2014 में Signal Foundation की स्थापना की थी.

Signal Application को Android, Window, IOS और Mac जैसे देवाइस में चलने के लिए बनाया गया है ये इन सभी देवाइस में आसानी से डाउनलोड होकर इस्तमाल हो जाएगा । Signal Private Messenger है जो आपके प्राइवेसी को सिक्योर रखने का वादा करता है.

Signal App डाउनलोड कैसे करें – Signal App Download kaise Kare

Signal App Download कर के अगर आप इस्तमाल करना चाहते है तो आप इसको आसानी से डाउनलोड कर सकते है अगर आप इसको एंड्रॉयड फोन में इस्तमाल करना चाहते है तो गूगल प्ले स्टोर सिग्नल अप अवेलेबल है आप नीचे दिए लिंक पर क्लिक कर के Signal app download कर सकते है

Download Signal

 

Signal App को Use कैसे करें – How to Use Signal App

 

Signal App को कैसे आप इस्तमाल कर सकते आइए हम आपको इसके बारे में विस्तार से बताते है

सबसे पहले आपको Google Playstore से Signal App Download कर लेना है.

Signal App को अपने मोबाइल मे Install होने के बाद इसे Open करना है.

सिग्नल अप को ओपन करने के बाद आपको अपने मोबाइल नंबर से रजिस्टर कर लेना है जैसे आप व्हाट्सएप में रजिस्ट्रेशन करते है ।

मोबाइल नंबर से रजिस्टर करने के बाद आपके मोबाइल पर एक ओटीपी आएगा आपको वो ओटीपी डाल कर वेरिफाई कर देना है

सिग्नल अप में जब आप अकाउंट बना लेंगे तब आपसे सिक्योरिटी पिन बनाने को बोला जाएगा तो आपको 4 डिजिट का सेक्योरिटी पीन बना लेना है

Signal App की Privacy Policy कैसी है?

जब आप सिग्नल अप की प्राइवेसी पॉलिसी को पढ़ेंगे तो आपको उसमें बहुत सी जानकारी पढ़ने को मिलेगी। जिसको पढ़ने के बाद आपको ये बाकी सभी मैसेजिंग अप से अलग लगेगा। चलिए हम आपको इसके प्राइवेसी पॉलिसी के बारे में कुछ बताते है

सिग्नल ऐप में कॉलिंग और मैसेजिंग के साथ साथ पूरी डाटा ही एंड तो एंड एन्क्रिप्टेड होती है इसमें आप व्हाट्सएप की तरह दूसरे किसी मोबाइल से बैकअप नहीं ले सकते है ।

सिग्नल अप आपके चैटिंग और कॉलिंग को अपने सर्वर पर अपलोड नहीं करता है और ये आपके डाटा को किसी ओर कम्पनी और किसी वेबसाइट पर शेयर नहीं करता है

 

अगर आप सिग्नल अप का इस्तमाल करते है और आपका फोन खो जाता है तो आप अपने डाटा को बैकअप नहीं ले सकते आपका डाटा आपके फोन से साथ खो जाएगा ।

सिग्नल अप आपके फोन के बहुत से डाटा को एक्सेस करेगा जैसे कि – कलिंग, कैमरा , स्टोरेज, माइक्रोफोन, लोकेशन, फोटो, इंटरनेट कनेक्शन आदि को ये एक्सेस करता है

सिग्नल एप्प की विशेषताएं – Signal app features in hindi

सिग्नल अप में आपको व्हाट्सएप की तरह ही बहुत से फीचर देखने को मिलेगा । सिग्नल ऐप में आपको क्या क्या फीचर मिलने वाले है हम आपको इसके बारे में बताएंगे। तो चलिए जानते है सिग्नल ऐप फीचर इं हिंदी।

सिग्नल ऐप में आप व्हाट्सएप की तरह अपने डेटा को किसी अन्य क्लाउड स्टोरेज पर स्टोर नहीं कर पाएंगे ।

सिग्नल अप में भी आप ग्रुप क्रिएट कर सकते है कर आप इस ग्रुप में 150 लोगो को एड कर पाएंगे।

WhatsApp में आप बिना किसी के Permission से किसी को अपने ग्रुप में एड कर देते है लेकिन signal app में ऐसा नहीं होगा । इसमें आप बिना उसके परमिशन के उसको ग्रुप में एड नहीं कर सकते है । जब भी आप किसी को अपने ग्रुप में एड करेंगे तो उसके पास एक मेसेज जाएगा जब वो आदमी उस मेसेज को एक्सेप्ट करेगा तो वो आदमी आपके ग्रुप में एड होगा

 

सिग्नल आप चैटिंग करने के लिए बहुत सिक्योर अप है इसमें चैटिंग एंट तो एंड एंक्रिप्शन पर काम करती है बीच में कोई दूसरा व्येक्ती आपके बीच हो रहे चैटिंग को मोनिटर नहीं कर पाएगा । इसलिए इसको बहुत सिक्योर माना जा रहा है

Why Signal App Feature Better Than WhatsApp?

अगर आप सिग्नल अप के बारे में पूरा जानना चाहते है तो आप इसको पढ़ते रहे है हम आपको इसके कुछ ऐसे फीचर के बारे में बताएंगे । जो इसको व्हाट्सएप से काफी अलग बनाता है और आप भी इन फीचर को जानने के बाद सिग्नल अप को जरूर इस्तमाल करना पसंद करेंगे ।

Typing on/ off feature in signal

Typing On/ Off Feature की मदद से आप किसी पर्सन से चैटिंग करते समय आप अपना टाइपिंग हाइड कर सकते है जिससे सामने वाले व्येक्ती को आपके टाइपिंग करने की गतिविधि के बारे में नहीं पता चलेगा । और आप टाइपिंग करते समय बिना किसी के नजर में आए टाइपिंग कर सकते है

Security Pin Setup

Security Pin Setup आपके लिए एक UPI Pin की तरह काम करेगा। जिससे आपके चैटिंग को आपके अलावे कोई और एक्सेस नहीं कर पाएगा । आप अपना पिन जिसको बताएंगे सिर्फ वही आपके सिग्नल अप को खोल पाएगा ।

Disappearing Message  Feature

Signal App में आपको एक ऐसा फीचर मिलता है जिसके मदद से आप अपने किसी Chat History को एक निर्धारित समय पर डिलीट कर सकते है यानी की आप Disappearing Message के सहायता अगर आप अपने किसी चैटिंग की किसी टाइम पर डिलीट करना चाहते है तो आप टाइम सेट कर दीजिए उस समय वो Chat अपने आप डिलीट हो जाएगा।

Relay calls Feature

सिग्नल ऐप में आपको Relay Calls का ऑप्शन्स मिल जाता है जिसके मदद से आप किसी को भी कॉल कर सकते है यह कॉल Signal server के माध्यम से होती है जिसको बीच में कोई इसका IP Address Access नहीं कर सकता है

सिग्नल ऐप से अगर आप किसी को कॉल करना चाहते है तो बस आपको प्राइवेसी सेटिंग में जाके रीले कल्स को एनेबल करना होगा।

Group joining Notification Alert

अगर कोई अनजान व्यक्ति या कोई भी व्यक्ति आपको किसी Group में Add करता है तो आपके पास एक Group Joiniy Notification Alert आएगा जिसको Accept करने के बाद ही आप किसी ग्रुप में एड हो पाएंगे । ये एक बहुत अच्छी फीचर है मुझे तो ये पर्सनली बहुत अच्छी लगी आपको कैसी लगी कमेंट कर के जरूर बताएं ।

 

 

Signal App और  WhatsApp में क्या अंतर है Difference between WhatsApp and signal in hindi.

Signal App और WhatsApp में कोई खास ज्यादा अंतर नहीं है इसमें बस आपको प्राइवेसी को लेके अंतर देखने को मिलेगा। तो चलिए जानते है signal app or WhatsApp me kya antar hai.

सिग्नल ऐप यूजर के डाटा को किसी भी प्रकार से इस्तमाल नहीं करता है और ना ही अपने सर्वर पर अपलोड करता है । जबकि व्हाट्सएप आपके डाटा को अपने बुसिनेस परपेज के लिए इस्तमाल करता है

सिग्नल अप में आपको व्हाट्सएप के तरह ज्यादा फीचर तो नहीं मिलेगा लेकिन प्राइवेसी के तुलना में ये व्हाट्सएप से कहीं बेहतर है

 

क्या सिग्नल ऐप सफे है Is Safe Signal App?

जब बात आती है कि क्या Signal App व्हाट्सएप की तुलना में सेफ है तो आपको बता दे की Signal app अपने प्राइवेसी के चलते इतना पॉपुलर है और इसकी प्राइवेसी व्हाट्सएप से कहीं बेहतर है

 

Signal App किस कंपनी ने बनाया है?

सिंग्नल एप्प को Signal Foundation यानि Signal Messenger LLC ने 2014 में बनाया था.

 

Signal App को किसने बनाया है

Signal App को Moxie Marlinespike और Brian Acton दोनों ने मिलकर बनाया है जो एक एक अमेरिका के डेवलपर है

 

Signal App किस देश का एप्लीकेशन है Which country from Signal App?

सिग्नल ऐप United State के California का एप्लिकेशन है जिसको अमेरिका के एक क्रिप्टोग्राफर ने Develop किया है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button